X Close
X

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने बहादुर गांव वालों को 5 लाख रुपए के इनाम की घोषणा की


Moradabad: ग्रामीणों ने लश्कर के 2 आतंकियों को दबोचा, उपराज्यपाल ने किया इतने लाख के इनाम का ऐलान जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने बहादुर गांव वालों को ...

केरल पहुंचे राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना


Moradabad: केरल पहुंचे राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, जानें ‘प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना’ को लेकर क्या कहा? कांग्रेस नेता और वायनाड से...

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि आज देश में जो माहौल है


Moradabad: ‘कांग्रेस की तुष्टिकरण नीति की वजह से हो रही हैं उदयपुर जैसी घटनाएं,’ जानें गृह मंत्री अमित शाह ने और क्या कहा उन्होंने विपक्षी दलों पर हम...

रामपुर और आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव हारने के बाद अखिलेश यादव ने उठाया बड़ा कदम


Moradabad: रामपुर और आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव हारने के बाद अखिलेश यादव ने उठाया बड़ा कदम, की ये कार्रवाई उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राष्ट्रीय का...

जेल में बंद राम रहीम नकली है, असली वाला किडनैप कर लिया गया है


Moradabad: ‘जेल में बंद राम रहीम नकली है, असली वाला किडनैप कर लिया गया है’, कोर्ट में पिटीशन दाखिल करते हुए उसके भक्त उसके नकली होने का दावा चंडीगढ़ म...

Latest News


हैदराबाद पहुंचे सीएम योगी ने की श्री भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा, ओवैसी के गढ़ में क्या होगा सियासी असर? साल 2020 में हैदराबाद निकाय चुनाव प्रचार के दौरान सीएम योगी यह कहकर, ‘उत्तर प्रदेश में फैजाबाद और इलाहाबाद, अयोध्या और प्रयागराज हो सकते हैं तो हैदराबाद दोबारा भाग्यनगर हो सकता है’ चर्चा में आ गए थे।हैदराबाद पहुंचे सीएम योगी ने की श्री भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजासाल 2020 में सीएम योगी ने कहा था- ‘हैदराबाद दोबारा भाग्यनगर हो सकता है’सीएम के साथ बीजेपी तेलंगाना इकाई के अध्यक्ष बी संजय कुमार रहे मौजूद तेलंगाना के हैदराबाद पहुंचे यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को श्री भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा अर्चना की। आदित्यनाथ मंदिर में करीब 20 मिनट रुके और उन्होंने विशेष पूजा अर्चना की। उनके साथ भारतीय जनता पार्टी की तेलंगाना इकाई के अध्यक्ष बी संजय कुमार, राज्यसभा सदस्य के. लक्ष्मण और विधायक राजा सिंह मौजूद थे। विधायक राजा सिंह ने कहा, ”योगी जब जीएचएमसी (2020) चुनाव में भाजपा के प्रचार के लिए आए थे तब भी उनका मंदिर जाने का कार्यक्रम था लेकिन वक्त की कमी की वजह से वह तब मंदिर नहीं जा पाए थे। उन्होंने हमसे कहा था कि वह अगली बार जब भी हैदराबाद आएंगे तब पूजा अर्चना करने के लिए मंदिर जाएंगे। इसी क्रम में वह आज आए और उन्होंने मंदिर में प्रार्थना की और आरती में भी शामिल हुए।” भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा के सियासी मायने चारमीनार से बिल्कुल सटे भाग्यलक्ष्मी मंदिर पर राजनीति आज से नहीं बल्कि सालों से चली आ रही है। साल 2012 में इस मंदिर को लेकर सांप्रदायिक तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी। साल 2020 में हैदराबाद निकाय चुनाव प्रचार के दौरान सीएम योगी यह कहकर, ‘उत्तर प्रदेश में फैजाबाद और इलाहाबाद, अयोध्या और प्रयागराज हो सकते हैं तो हैदराबाद दोबारा भाग्यनगर हो सकता है’ चर्चा में आ गए थे। अब भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने हैदराबाद पहुंचे सीएम योगी की भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा-अर्चना एक बार फिर सियासी गलियारे में चर्चा का विषय बन गई है
More News
Hukoomat Reporter