X Close
X

गुस्साए अधिवक्ताओं ने हमले में गिरफ्तार आरोपितों को जमकर पीटा


Moradabad:

देहरादून। थर्टी फर्स्ट नाइट के जश्न के दौरान मसूरी में एक अधिवक्ता और साथियों पर हमला करने वाले चार आरोपितों को पुलिस ने रविवार देर रात गिरफ्तार कर लिया। मसूरी पुलिस चारों को अदालत में पेश करने देहरादून कचहरी लाई मगर यहां गुस्साए अधिवक्ताओं ने कचहरी परिसर आरोपितों की धुनाई कर दी। पुलिस ने बीच-बचाव कर आरोपितों को छुड़ाया और अदालत में पेश किया। चारों को चैदह दिन की न्यायिक अभिरक्षा में सुद्धोवाला जिला कारागार भेज दिया गया।
मसूरी पुलिस के मुताबिक 31 दिसंबर की देर रात देहरादून के सहारनपुर चैक निवासी अधिवक्ता अभिषेक पराशर और उनके भाई राघव पराशर अपने मित्रों के साथ मसूरी से पार्टी कर लौट रहे थे। लौटते हुए अपने एक मित्र निखिल गोयल को छोड़ने वह अपनी कार से ओकग्रोव स्कूल झड़ीपानी के समीप आए तो दूसरी कार में सवार कुछ युवकों ने उनकी कार के आगे अपनी गाड़ी लगा दी। विरोध करने पर युवकों ने अभिषेक, उनके भाई और दोस्तों पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया और नगदी लूट ली।
अभिषेक और राघव के गंभीर चोटें आईं। हमलावरों ने कार का शीशा भी तोड़ दिया और जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए। राघव की तरफ से मसूरी कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था। रविवार देर रात पुलिस ने घटना में शामिल चार आरोपितों नवाज खान निवासी किंक्रेग मसूरी, रोहित रावत निवासी रिस्पना नदी करनपुर, रोहित सिंह निवासी झड़ीपानी व यशवंत सिंह नेगी निवासी कर्णप्रयाग को गिरफ्तार कर लिया।

Hukoomat Reporter